Blog

सिंह राशि और मिथुन राशि क्यूँ होती है जोड़ी नंबर 1 ? – Why Leo Rashi and Gemini Rashi are No.1 Compatibility ?

सिंह राशि और मिथुन राशि

सिंह राशि और मिथुन राशि ( Leo Rashi and Gemini Rashi ) आप दोनों के विचार, व्यव्हार कुशल जीवन ही आपको रिश्तों की गहराई प्रदान करता है. 

 

सिंह राशि और मिथुन राशि ( Leo Rashi and Gemini Rashi ) वालों खासतौर पर आपमें यह एक बात भी देखी गयी है की बुद्धि, सोच, समझ, बात करने का तरीका, चीज़ों में लगाव एवं एकरूपता और गज़ब की बॉन्डिंग निहित ही देखी गयी है.

 

सिंह राशि और मिथुन राशि ( Leo Rashi and Gemini Rashi ) वालों आप दोनों को धूमना, फिरना और संसार में उपलब्ध सभी चीज़ों का लुत्फ़ लेना काफी ज़्यादा पसंद है, तो साथ ही सामान्य से अधिक आपका जीवन यात्राओं से भरा रहता है। यह बात भी आपको एक दूजे की और आकर्षित कराती है.

 

आप दोनों के पास ज्ञान का भंडार होता है, इसलिए भी एक दूसरे को अच्छे से समझते है और यह चीज़ आपको आगे बढ़ने में भी मददरूप साबित हुए है. 

सिंह राशि और मिथुन राशि
सिंह राशि और मिथुन राशि

सिंह और मिथुन ( Leo and Gemini ) राशि वालों यह काफी कुछ चीज़े संभालने और समझने में मददरूप होती है. इतना ही नहीं, आप एक दूसरे को काफी कुछ सीखा भी जाते हैं, जो खासतौर पर जीवन जीने की जो मूलभूत समझ और आवश्यकता है उसे अवगत कराते हैं.

 

आपके संबंध वफादार, इमानदार और साथी के साथ पूर्ण समर्पित होकर जीवन व्यतीत करने में आप विश्वास रखते हैं, तो साथ कार्य करके एक टीम वर्क के साथ उभरने की पूर्ण क्षमता भी आप रखते हैं, तो इसलिए भी आप दोनों का साथ आपको फायदा पहुंचाता है.

 

जैसे एक बात आपने सुनी ही होगी “ नामुमकिन को मुमकिन कर दे ” यह कहावत सिंह राशि और मिथुन राशि ( Leo Rashi and Gemini Rashi ) के जातकों का जीवन देखने पर हमें यह साफ प्रतीत होती है कि आप दोनों उसे साथ में हर नामुमकीन शी दिखने वाली परिस्थितियों को साथ मिलकर आप मुमकिन करने की अभूतपूर्व क्षमता रखते हैं.

धन प्राप्ति के उपाय के साथ धन संचय करने का सही No.1 तरीका और प्राप्त हुये धन को निरंतर वृद्धि का सही रास्ता

राशि तत्व : सिंह राशि का राशि तत्व अग्नि है, तो मिथुन राशि का राशि वायु तत्व है आप दोनों का मिलन तो प्रकृति का भी निश्चय है क्यूंकि अग्नि तत्व अग्नि के स्वरूप में अपना प्रकोप दिखाता है, तब वायु तत्व अपनी शीतलता से अग्नि को शांत करता है.

 

सिंह राशि और मिथुन राशि ( Leo Rashi and Gemini Rashi ) आपका मिलन बहोत ही योग्य होता है क्यूंकि कभी कबार आप एक दूसरे के पूरक साबित होते है और परिश्थितियां आपका साथ दे तो आपको आगे बढ़ने से रोकना बहोत मुश्किल हो जाता है.

 

आपने बहोत कम सुना होगा की राशि तत्व के मिलन से भी समानताएँ देखी जाती है जी हाँ यह बहुत ही आवश्यक है की आप राशि तत्व की अनुकूलता देख कर आगे बढे तो जीवन का कुछ अनोखा रस पान करने को मिल सकता है.

 

आपके व्यक्तित्व में यह बात खास है की आपको पता है किस समय साथी को कब क्या चाहिए, जैसे की सहानुभूति, शांति और मानसिक सपोर्ट. इसलिए भी आपका जीवन अच्छा, सुदृढ़, सुयोग्य और बेजोड़ बेनमून होता है.

सिंह राशि और मिथुन राशि
सिंह राशि और मिथुन राशि

आपके राशि राशि स्वामी की बात करें तो: सिंह राशि का राशि स्वामी जगत के पालक पोषक ब्रम्हांड नायक सूर्य देव है, तो मिथुन राशि के राशि तत्व ब्रह्मांड में सूर्य के बाद तेजस्वी और गतिमान ग्रह राजकुमार बुध देव है.

 

नौ ग्रहों में बुध ग्रह चौथे स्थान पर और सूर्य प्रथम स्थान में विराजमान है, जो वैदिक ज्योतिष के अनुशार बहोत ही शुभ और सामंज्यस्य पूर्ण माना गया है.  

 

तो सिंह राशि और मिथुन राशि ( Leo Rashi and Gemini Rashi ) वालों बात करे सिंह राशि और मिथुन राशि ( Leo Rashi and Gemini Rashi ) लव रिलेशन बारे में तो आपमें : प्रेम, भरोसा, सहानुभूति एवं वैचारिक आकर्षण आपके रिलेशन अवश्य ही सफल रहता है। चाहे वह प्रेमी-प्रेमिका के रूप में हो, पति-पत्नी के रूप में हो या लीव इन में साथ टाइम स्पेंड कर रहे व्यक्तियों के बारे में हो आपकी बॉन्डिंग गज़ब की रहेगी. 

Our YouTube Channel:

https://youtu.be/MrKLLiQHTA4

 

ज्योतिषीय गणनाओं एवं आप दोनों के व्यक्तित्व के अनुसार आपका जीवन साथ में अच्छा व्यतीत होने का साफ़ अनुमान है.

 

अगर आप बिजनेस या व्यवसाय में साथ मिलकर आगे बढ़ेंगे, आप दोनों की सूझ बुझ अच्छे मैनेजमेंट और आपसी समझ और कार्य पूर्ति का आपका दम-ख़म आपको ज़रूर सफलता पहुचायेगा, यह बात तो तय है। इतना ही नहीं किये हुई कार्य का श्रेय आप समाज से अर्जित करने में सफल भी रहेंगे.

 

तो आपका पारिवारिक जीवन और जीवन साथ होकर निभाने की चाह आपको आखिर तक जोड़े रखती है और इसमें आपको सफलता भी मिलती है तो आपका जीवन आनंद, प्रेम, स्नेह एवं हसीन लम्हों के भरा होता है जो प्रेम, लक्ष्य प्राप्ति, सहजता, रिलेशनशिप और अनुकूलता की एक मिसाल स्थापित करता है.

          …………….…………………………………..      जय गुरुदत्त        ……………………………………..……………………………

Leave A Comment