Blog

ब्रह्मांड की विपरीत राशि मिथुन और मीन का – क्या हो पाएगा मिलन ?

Mithun aur Meen Rashi ki Jodi

मिथुन और मीन राशियों के लोग बहुत ही भिन्न व्यक्ति होते हैं जिन की अपने जीवन में आवश्यकताएं भी अलग-अलग होती है।

मिथुन और मीन

इसीलिए मिथुन और मीन राशियों का एक साथ बने रहना उनके लिए बहुत चुनौतीपूर्ण हो सकता है, लेकिन वह दोनों ही शांतिप्रिय होते हैं और एक दूसरे के साथ संवाद करने के लिए भी तैयार रहते हैं जिससे उनके रिश्ते को एक लचीली और सहनशील बढ़त प्रदान करता है।

आइये जानते हे की मिथुन राशि और मीन राशि के जातक कैसे होते हे !

मिथुन राशि :-

मिथुन और मीन

मिथुन राशि के लोग बहुत ही बुद्धिमान और चतुर व्यक्ति होते हैं और वह अपनी स्वतंत्रता को बहुत प्यार करते हैं।
वे कलात्मक रूप से संवादी एवं बौद्धिक रूप से आश्चर्यजनक होते हैं और अपनी चतुराई से वे लगभग वह सब कुछ हासिल कर लेते हैं जो वे चाहते है। वह एक चीज से दूसरी चीज पर जाने में इतनी तेजी से गति करते हैं, की उन पर नजर रख पाना मुश्किल होता है लेकिन इनकी बदलती मनोदशा को लेकर कभी-कभी सावधानी भी बरतनी पड़ती है।

 

 

 

यह भी पढ़िए : करोड़ों में 1 होती है – मेष और कर्क राशि की जोड़ी : Aries & Cancer Compatibility

मीन राशि :-

मीन राशि के लोग कोमल सपने देखने वाले ओर अत्यधिक सहज लोग होते हैं । वह गर्म जोश व सहनशील व्यक्ति होते हैं और मीन राशि के लोगों के पास आध्यात्मिक और मानवीय गुणों की एक अद्भुत समझ होती है, जिससे वह जीवन की जटिलताओं में भी खुद को खोजते रहते हैं और जब वे खुद को पा लेते हैं तब वे अपने इस आध्यात्मिक स्वरूप को दिखाते भी है ।अगर बाधाओं से लड़ना ही एकमात्र विकल्प होता है तो वह इससे बचते हैं और भागते हैं।

 

 

 

मिथुन और मीन राशि का मिलन :-

मिथुन और मीन राशियों के लोग एक दूसरे के प्रति संवादी तौर पर आकर्षित होते हैं । मिथुन राशि के लोगों को सुना जाना खुद पर ध्यान दिया जाना और बातचीत करने के तरीके में अपने मन मुताबिक हेरफेर करना बहुत पसंद होता है, तो वही मीन राशि वाले मिथुन राशि के लोगों के लिए ठीक इसी तरह के दर्शक साबित होते हैं ।

मिथुन और मीन राशियों के बीच के रोमांटिक रिश्ते को भी कई तरह के उछाल भरे रास्तों से होकर गुजरना पड़ता है क्योंकि वह दोनों ही अपने प्यार जताने के तरीकों को लेकर काफी भिन्न होते हैं और इस रिश्ते से उनकी जरूरतें भी काफी अलग-अलग होती है।

यह भी पढ़िए : आजमाएं यह तात्कालिक नौकरी पाने के उपाय, मिलेगी इच्छित जॉब

मिथुन और मीन राशि के लोग एक-दूसरे से काफी अलग होते हैं इसीलिए जब तक इनके रिश्तो में कुछ समय के लिए स्थिरता ना आए तब तक इन दोनों के बीच के आपसी रिश्ते कई तरह के उतार-चढ़ाव से होकर गुजरते हैं ।

अगर समर्थन विश्वास और प्रोत्साहन के माध्यम से इन दोनों की तरफ से ही पर्याप्त आपसी समझ दिखाई जाती है, तो इन दोनों के बीच में एक अच्छा संयोजन बनने का एक मौका तो होता ही है।

अच्छे संबंध बनाए रखने का उपाय :-

mesh aur mithun

इन दोनों राशियों के रिश्तो में कुछ उतार-चढ़ाव देखने को मिलता रहता है पर यह उतार-चढ़ाव तब तक होता है जब तक कि इन दोनों के रिश्तो में स्थिरता ना आ जाए। यह दोनों राशियां समझदार भी होती है इसीलिए आपसी रिश्तो में दखल अंदाजी नहीं करते हैं। यह दोनों एक दूसरे के सुख-दुख को भलीभांति समझती है और एक दूसरे के दुख दूर करने की कोशिश भी करते हैं।

मीन राशि वाले लोगों की भावनाओं को समझना कोई आसान काम नहीं है। मिथुन राशि वाले बिना सोचे समझे मीन राशि वाले से संबंध बना लेते हैं, लेकिन धीरे-धीरे मिथुन राशि वाले को इस रिश्ते से घुटन होने लगती है। ऐसी स्थिति होने पर वह मानसिक रूप से रिश्ते को खत्म कर देते हैं या उन्हें सुधारने की कोशिश करते हैं। अगर मीन राशि वाले मदद मिलने के बाद भी अपनी समस्या सुलझा लेते हैं तो ठीक है, नहीं तो मिथुन राशि वाले मीन राशि को अधर में छोड़ कर आगे बढ़ जाते हैं, और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखते हैं।

यह भी देखिये वीडियो में : आइये जानते हे मिथुन राशि और मीन राशि के जातक कैसे होते हे।

 

इसीलिए अगर दोनों राशि वाले एक दूसरे को समझ कर आगे बढ़ेंगे, तो निश्चित ही आप दोनों का प्रेम जीवन सफल रहेगा, आप दोनों का विवाहित जीवन शुभ रहेगा, आप जिंदगी के खट्टे मीठे अनुभव को साथ मिलकर प्राप्त कर पाएंगे, खुशियां प्राप्त कर पाएंगे और आपकी भी जिंदगी खुशियों से भर जाएगी। फिर भी आप दोनों यदि साथ में जीवन व्यतीत करना चाहते हैं तो कुंडली का विश्लेषण करवा कर आगे बढ़ने की सलाह भी देते हैं। दत्त महाराज आपकी मनोकामना पूर्ण करें जय गुरुदत्त जय गिरनारी।

Leave A Comment