Blog

कन्या राशि और वृषभ राशि की जोड़ी क्यूँ होती है नंबर 1: Virgo and Taurus Compatibility

कन्या राशि और कर्क राशि

कन्या राशि और वृषभ राशि (Virgo and Taurus) वालों में व्यावहारिकता, बुद्धिमता और विचारों में जबरदस्त एकरूपता होने से, इन दोनों की जोड़ी यों में प्रेम संबंध काफी ज़्यादा प्रभावी होता है। इतना ही नहीं इन दोनों राशियों के बीच में बौद्धिक क्षमता के लेवल पर इतनी ज्यादा अंडरस्टैंडिंग होती है, की कोई भी जोड़ी इनके सामने ज़्यादा समय तक टिक नहीं पाती।

 

कन्या राशि और वृषभ राशि वालों के बीच में कोई भी संबंध जैसे दोस्ती का संबंध, प्यार का संबंध या फिर पति-पत्नी का संबंध में अपना बेस्ट देते हैं, क्योंकि इन दोनों राशि के जातकों में काफी ज़्यादा वैचारिक साम्यता और सूझ बुझ होने से ही यह संभव है। साथ ही उनकी यह सब बात संबंध को मजबूती प्रदान करती है।

कन्या राशि और वृषभ राशि यह दोनों राशि एक दूसरे के प्रति ईमानदार, वफादार और साथी की और समर्पित होते है। वृषभ राशि अपनी राशि स्वामी के गुणांनुसार बहुत ज्यादा बलवान होते हैं।

इसके साथ ही कोई भी निर्णय लेने से पहले सभी परिस्थितियों की समीक्षा करके ही उसका स्वीकार कर आगे बढ़ने की उनकी यह प्रवृत्ति को देखकर ही कन्या राशि वाले जातक अपने व्यक्तित्व जैसा ही अनुभव वृषभ राशि के जातक की ओर से अनुभव करते हैं, और कन्या राशि वाले जातक वृषभ राशि के जातकों की यह सभी बात देख कर अनुभव कर के ही उन पर मंत्रमुग्ध होते हैं।

वही आमतौर पर यह देखा गया है, कि कन्या राशि और वृषभ राशि के जातको में कन्या राशि वालों का तर्कशील, बुद्धिशाली एवं कोई भी परिस्थितियों में सूझबूझ भरे निर्णय लेने की अनोखी काबिलियत देख कर ही वृषभ राशि वाले कन्या राशि के जातक पर सदैव के लिए समर्पित हो जाते हैं।

 

कन्या राशि और वृषभ राशि: love
कन्या राशि और वृषभ राशि: love

 

कन्या राशि और वृषभ राशि के जातक में गुण, बुद्धि, स्वभाव यह सब प्रायः इनमें मूलभूत ही पाया जाता है। इतनी सारी खूबियां कन्या राशि और वृषभ राशि के जातकों होने के साथ ही इनमें थोड़ी लिमिटेशंस भी होती है। जैसे कि कोई भी निर्णय में लेते समय में काफी ज्यादा सोच विचार, तर्क वितर्क एवं हर पहलुओं पर गौर करने के बाद ही आगे बढ़ने की प्रवृत्ति इनका यह स्वभाव कभी-कभी उनके जीवन में अच्छे मौके इनके हाथ से छूट भी जाते हैं।

हालांकि यह बहुत ज्यादा जरूरी है, कि कोई भी निर्णय पर पहुंचने के लिए सोच विचार करना चाहिए। लेकिन सभी चीजों की गहराई में जाकर ज्यादा बारीकी से जांच परख करना कभी-कभी उनके लिए हानिकारक हो सकता है। इसलिए कन्या राशि और वृषभ राशि के जातक जीवन में आगे बढ़ने के अच्छे मौके मिले हो तो सोच समझ कर आगे बढ़े, बात की पूरी गहराई में जाकर पूरी बात समझने का कोई मतलब नहीं है।

कन्या राशि और वृषभ राशि वाले जातक अपने जीवन में अच्छा निर्णय कर आगे बढ़ेंगे, तो सक्सेस इनके कदम जरूर चूमेगी। इतना ही नहीं इनके अंदर जो इतनी सारी खुशियां हैं। वह इनको किसी भी क्षेत्र में अव्वल नंबर पर पहुंचाने के लिए काफी होता है। बस शर्त इतनी अच्छे से सोच समझ कर थोड़े समय में निर्णय लेकर आगे बढ़े।

कन्या राशि और वृषभ राशि के जातक केवल रिलेशनशिप संबंध में ही नहीं। परंतु बिजनेस पार्टनर के रूप में भी आगे बढ़े तो कभी भी असफलता का सामना नहीं करना पड़ेगा। इतना ही नहीं उनकी बौद्धिक क्षमता एवं सुलझी हुए सोच के दम पर ही यह जातक बिजनेस में हरदम सर्वश्रेष्ठ स्थान पर आसीन रहेंगे।

 

कन्या राशि और वृषभ राशि
कन्या राशि और वृषभ राशि

 

कन्या राशि और वृषभ राशि के जातक करियर में अपने मैनेजमेंट की बदौलत आगे तो बढ़ेंगे ही। यह बात तो तय है। साथ ही इनके सफल जीवन का दौर यहां नहीं रुकेगा परंतु इनके आकर्षक एवं मनमोहक व्यक्तित्व के आधार पर समाज में मान सम्मान, पैसा रुतबा, लग्जरियस लाइफ जीने में भी बहुत ज्यादा सफल होते हैं।

कन्या राशि वाले अन्य राशि के मुकाबले ज्यादा बुद्धिशाली और धीरज ता का गुण होने से यह जातक कोई भी कार्य, या फिर किसी भी क्षेत्र में अवश्य सफलता प्राप्त करेंगे। कन्या राशि वाले जातक कुशल कार्यकर्ता, विश्लेषक, संशोधन के गुण इनमे जन्मजात ही होते हैं।

इसलिए कन्या राशि वाले व्यक्ति अपने करियर जीवन में वैज्ञानिक, डाटा एनालिसिस, सर्वेयर, मार्केटिंग, मैनेजमेंट, एजुकेशन, टीचर और सर्च रिसर्च के क्षेत्रों को चुने तो अवश्य ही अपने अंदर छुपी हुई सभी प्रति प्रतिभाओं की मदद से ही जबरदस्त प्रदर्शन कर सफल होते हैं।

 

कन्या राशि और वृषभ राशि
कन्या राशि और वृषभ राशि

वृषभ राशि वाले जातक बल बुद्धि के प्रधान व्यक्ति होते हैं। इसलिए यह जातक ऐसा ही कोई कार्य जिसमें बल और बुद्धि का इस्तेमाल होता है। वह चुनाव कर जीवन में आगे बढ़े तो अवश्य ही सफलता प्राप्त करेंगे।

वृषभ राशि वाले जातक कुशल कार्यकर्ता एवं बल बुद्धि के गुण इनमे जन्मजात ही होते हैं। इसलिए वृषभ राशि वाले व्यक्ति अपने करियर जीवन में कृषि, खेत खलियान, कंस्ट्रक्शन, मार्केटिंग, मैनेजमेंट, एजुकेशन, प्रोडक्शन, हॉस्पिटैलिटी या फिर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के क्षेत्रों को चुने तो अवश्य ही अपने अंदर छुपी सभी प्रतिभाओं की मदद से जबरदस्त प्रदर्शन कर सफल होते हैं।

कन्या राशि और मिथुन राशि की जोड़ी होती है नंबर 1: Virgo and Gemini Compatibility

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भी कन्या राशि और वृषभ राशि के बीच में कोई भी संबंध की लाइफटाइम गारंटी है। कन्या राशि और वृषभ राशि के जातकों में खास तौर पर एक बात देखी गई है। कोई भी कार्य को लेकर एक दूसरे के कार्य में टांग नहीं अड़ाते। बल्कि एक दूजे को सपोर्ट करके आगे बढ़ने का ही विचार कर जीवन में यह सभी बातों का अमल करते हैं।बस एक खुशहाल जिंदगी बिताने के लिए और क्या चाहिए !
कन्या राशि और वृषभ राशि वाले जातकों के जीवन में अंतिम पलों तक एक दूसरे के बनकर रहते हैं, और हंसी खुशी, ईमानदारी के साथ अपना जीवन व्यतीत करते हैं।

https://youtu.be/8pvetr8hwX4

जय गुरुदत्त.